खुशदीप सहगल
बंदा 1994 से पेन-कम्प्यूटर तोड़ रहा है

humour...चूहे का कांफिडेंस...Khushdeep

Posted on
  • by
  • Khushdeep Sehgal
  • in
  • लेबल: , ,

  • एक चूहा लाल गुलाब लेकर शेरनी के पास पहुंच जाता है...

    बड़े अदब से पैरों पर झुकते हुए शेरनी को प्रपोज़ करता है...

    शेरनी बोली...पहले जा...आईने में जाकर सूरत देख...

    ...

    ...

    ...


    चूहा...सूरत पे मत जा पगली...बस कॉन्फिडेंस देख कॉन्फिडेंस...


    Why wife is called as virus...To know further click this link

    9 टिप्पणियाँ:

    एम सिंह ने कहा…

    कांफिडेंस के साथ साथ हिम्मत भी तो देखिये 'शेर' की
    मेरे ब्लॉग पर आपका स्वागत है
    मीडिया की दशा और दिशा पर आंसू बहाएं

    दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

    चूहे का क्या बिगाड़ लेती शेरनी? किसी बराबर वाली को प्रपोज करता तो बात कुछ और होती।

    सुशील बाकलीवाल ने कहा…

    सारा खेल इसी का तो है ।

    Rakesh Kumar ने कहा…

    फिर क्या हुआ खुशदीप भाई,बात बनी या बिगड़ी,

    सञ्जय झा ने कहा…

    subhan allah.........is confidence pe to 'shreni' bhi 'fida'
    ho gaee hogi........

    pranam.

    निर्मला कपिला ने कहा…

    वाह कन्फिडेन्स हो तो ऐसा --- । शुभकामनायें।

    Udan Tashtari ने कहा…

    क्या गज़ब का कान्फिडेन्स है भई..

    pankhuri ने कहा…

    hehehe,BRAVO RAT JI!!.... Today Confidence is the key to success.As i say to my friends first carry the confidence than your clothes.

    दिगम्बर नासवा ने कहा…

    गज़ब का कान्फिडेन्स है .....

    एक टिप्पणी भेजें

     
    Copyright © 2009. स्लॉग ओवर All Rights Reserved. | Post RSS | Comments RSS | Design maintain by: Humour Shoppe